शताब्दी समारोह में संघ ने उठाईं शिक्षकों की समस्या

मुरादाबाद। राजकीय शिक्षक संघ शाखा मुरादाबाद के सौ वर्ष पूर्ण होने पर समारोह और शैक्षिक उन्नयन गोष्ठी का आयोजन हुआ। वक्ताओं ने शिक्षकों की समस्याओं को जनप्रतिनिधियों के सामने रखकर जल्द निस्तारण की मांग की।

शताब्दी समरोह तीन सत्रों में हिंदू मॉडल इंटर कॉलेज में आयोजित हुआ। प्रथम सत्र में मुख्य अतिथि डॉ. विशेष गुप्ता ने कहा कि शिक्षक समाज के लिये एक प्रेरणास्रोत का काम करता है। उन्होंने शिक्षा में गुणवत्ता के सुधार पर बल दिया गया। एमएलसी हरिसिंह ढिल्लों ने कहा कि सभी शिक्षकों को अपने कार्यक्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिये शुभकामनाएं दीं। शैक्षिक संघ के पदाधिकारियों ने राजकीय शिक्षकों की समस्याओं को उठाया। राजकीय इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य डॉ. श्वेता पूठिया ने शिक्षकों को अन्यत्र विभागीय कार्यों में लगाए जाने से शैक्षिक कार्य प्रभावित होने का मुद्दा उठाई। एमएलसी ने कहा कि शिक्षकों की समस्या का निराकरण कराया जाएगा।

द्वितीय सत्र में मुख्य अतिथियों ने सेवानिवृत्त शिक्षकों तथा प्रधानाचार्यों को अंगवस्त्र भेंट कर सम्मानित किया। विधान सभा चुनाव में स्वीप कार्यक्रम में उत्कृष्ट योगदान के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सम्मानित डॉ. अनुज अग्रवाल , साहित्य में विशेष योगदान के लिए डॉ. ऋचा पाठक को सम्मानित किया गया।
अंतिम सत्र में प्रसिद्ध शिक्षाविद् हरवंश दीक्षित ने कहा कि शिक्षक बच्चों के सुंदर भविष्य का निर्माण करते हैं। उनकी समस्याओं को दरकिनार नहीं किया जा सकता। संयुक्त शिक्षा निदेशक, मनोज कुमार द्विवेदी ने शिक्षकों की समस्याओं के त्वरित निस्तारण का आश्वासन दिया। कार्यक्रम में संघ के प्रांतीय अध्यक्ष सुनील कुमार भड़ाना ने शिक्षकों के हित में किए जाने वाले कार्यों की योजना बताई। जिला अध्यक्ष अचल त्यागी ने अतिथियों का आभार प्रकट किया। जिला मंत्री विम्मी रस्तोगी, प्रीतम सिंह, मंडलीय मंत्री मृडीक वृतेश, अनीता सिंह, विकास कांत गुप्ता, गीतांजली दक्ष, मंजू गौतम, धनेन्द्र शर्मा, डॉ. मुक्ता अग्रवाल, डॉ. अरुण कुमार सिंह आदि मौजूद रहे।