बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में 8वीं कक्षा तक के छात्रों की शिक्षा का होगा मूल्यांकन

औरैया। बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में कक्षा एक से आठ तक के छात्रों को इस बार भी बिना परीक्षा अगली कक्षा में भेजने की सुगबुगाहट है। शैक्षिक सत्र 2021- 22 में करीब दो माह शिक्षण कार्य प्रभावित रहने के कारण परिषदीय स्कूलों के छात्रों का कक्षा स्तर पर असेसमेंट करने के लिए बीएसए ने निर्देश जारी किया है। असेसमेंट (मूल्यांकन) में प्रेरणा ज्ञानोत्सव के जरिए छात्रों के सीखने व पढ़ने की क्षमता का आकलन किया जाएगा।



बेसिक शिक्षा अधिकारी चंदना राम इकबाल ने खंड शिक्षा अधिकारियों निर्देश दिया कि परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाले कक्षा एक से आठ तक के सभी छात्रों का असेसमेंट सर्वे कराने का निर्देश दिया है। बीएसए ने प्रश्नपत्र पीडीएफ के माध्यम से शिक्षकों को

उपलब्ध कराया है। उन्होंने कहा कि सर्वे कार्य कोविड-19 गाइड लाइन का अनुपालन करते हुए मोहल्ला क्लास के दौरान अध्यापकों द्वारा कराया जाएगा। सर्वे के प्राप्त परिणाम की सूचना दिए गए प्रारूप में बीएसए को भेजना होगा। उन्होंने निर्देश दिया है कि विकास खंड में असेसमेंट सर्वे कराते हुए सूचना भेजी जाए। वहीं शिक्षकों को इसकी जानकारी होने के बाद इस बात को लेकर हैरानी है कि छात्रों के मूल्यांकन के साथ ही शिक्षकों द्वारा कराए गए शिक्षण कार्य की हकीकत भी सामने आएगी। शिक्षक इसको लेकर परेशान हैं।