Primary ka master : 15 फर्जी शिक्षक बर्खास्त! फर्जी दस्तावेजों के सहारे नौकरी कर रहे थे, वेतन रिकवरी की तैयारी, मुकदमा दर्ज

देवरिया: उत्तर प्रदेश Uttar Pradesh के देवरिया जिले के बेसिक शिक्षा विभाग में 15 फर्जी अध्यापकों teachers को बर्खास्त कर दिया गया है. ये फर्जी टीचर teacher कूटरचित दस्तावेजों, फर्जी अभिलेखों के आधार पर नौकरी कर रहे थे.सभी फर्जी अध्यापकों teachers के खिलाफ मुकदमा Case दर्ज करने के लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी BSA ने थाने में तहरीर दे दी है. बेसिक शिक्षा अधिकारी BSA ने बताया कि विभागीय जांच में इस बात की पुष्टि हुई. इन सबकी सेवा समाप्त कर दी गई है.

बर्खास्त किए गए फर्जी अध्यापक

जो 15 फर्जी अध्यापक बर्खास्त किए गए हैं, उनके नाम क्रमश: लल्लन यादव, चंद्र भूषण यादव, ऋषिकेश कुमार, रणजीत कुमार यादव, नथनी प्रसाद भारती, सुमेश्वर कुमार मिश्र, अनुराग मिश्र, राम भरोसे, वीणा रानी, वृंदा लाल गौतम, रितेश कुमार सिंह, रामानुज मिश्र, रीता यादव, वसुंधरा यादव शामिल है.

बीते दो सालों में 69 फर्जी टीचर की सेवा की जा चुकी है समाप्त

बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष राय ने बताया कि बीते दिनों बर्खास्त किए गए 15 अध्यापकों के विरुद्ध थाने में मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दी जा चुकी है. उन्होंने बताया कि देवरिया जिले में बीते दो सालों में 69 फर्जी शिक्षकों की सेवा समाप्त की जा चुकी है. शिकायतों के आधार पर एसटीएफ द्वारा और विभाग द्वारा भी जांच कराई गई. जांच में सभी टीचर फर्जी पाए गए और सबकी सेवा समाप्त कर दी गई. इनमें से 55 के ऊपर मुकदमा भी दर्ज हो चुका है. बाकी पर भी मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई चल रही है.