कोरोना की वजह से सेना भर्ती स्थगित, निरस्त नहीं, राज्यसभा में रक्षा राज्यमंत्री का स्पष्टीकरण

भीड़ जुटने पर महामारी फैलने का खतरा था।

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि उसने सेना में भर्ती पर रोक नहीं लगाई है। कोरोना महामारी की वजह से स्थगित की हुई है। राज्यसभा में रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट ने बताया कि भर्ती के दौरान भीड़ जुटने से वायरस का प्रसार न हो जाए, इसलिए भर्तियों को स्थगित रखा गया है।

भट्ट ने तारांकित सवाल के जवाब में कहा, महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। सेना भर्ती के लिए बड़े आयोजन होते हैं, भारी भीड़ आती है। इस स्थगन को सरकारी रोक न माना जाए।

महिला सैनिकों को लड़ाकू भूमिका देने पर विचार जारी : ने भट्ट ने बताया, महिला सैनिकों को लड़ाकू भूमिका देना विचाराधीन है। महिलाओं की सशस्त्र सेना में भर्ती तय व्यवस्था के तहत हो रही है। सेना में मानव संसाधन पूरे रखने के लिए भी उचित संख्या में भर्ती की जा रही है।

80,572 भर्तियां हुई थीं 2019-20 में

■ रक्षा राज्यमंत्री ने बताया, 2018-19 में सेना में 53,431 सैनिक भर्ती हुए।

■ 2020 में महामारी आई, तो 2021 व 2022 में भर्तियां स्थगित करनी पड़ीं।

■ हालांकि 20-21 व 21 22 में वायुसेना में क्रमशः 8,423 व 4,609 और नौसेना में क्रमशः 2,722 व 5,547 भर्तियां हुईं।