डीएम विजय किरन आनंद की टीम ने 21 अनुपस्थित शिक्षकों व कर्मियों को निलंबित करने के निर्देश

तीन बिन्दुओं पर कार्रवाई के निर्देश

निरीक्षण टीम द्वारा दी गयी रिपोर्ट के बाद जिलाधिकारी ने डीआईओएस को तीन बिन्दुओं पर कार्रवाई का निर्देश दिया। इसमें पहली कार्रवाई में यह कहा कि जो बिना सूचना के अनुपस्थित मिले उनकों तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाय। दूसरे निर्देश में कहा इतनी ज्यादा शिक्षकों के अवकाश पर रहने के संबंध में प्रधानाध्यापकों की बैठक बुलायी जाय और तीसरी कार्रवाई के निर्देश में डीएम ने कहा कि बच्चों के कम उपस्थिति पर प्रधानाध्यापकों से स्पष्टीकरण मांगा जाय। हालांकि डीएम के निर्देश पर डीआईओएस ने सभी अनुपस्थित मिले शिक्षकों और कर्मचारियों के विद्यालय के प्रबंधतंत्र को पत्र जारी करते हुए निलंबित करने का निर्देश दिया है। साथ ही यह भी कहा है निलंबन की सूचना पांच दिन के अंदर डीआईओएस कार्यालय पर उपलब्ध कराया जाय। अन्यथा प्रबंधतंत्र पर कार्रवाई की जाएगी।

● 141 राजकीय व एडेड माध्यमिक विद्यालयों का किया गया था निरीक्षण

● 21 सहायक अध्यापक लिपिक व चतुर्थ श्रेणी के कर्मी मिले थे अनुपस्थित

● डीआईओएस ने प्रबंधतंत्र को निलंबित कर सूचित करने का दिया निर्देश

गोरखपुर,

परिषदीय विद्यालयों के बाद अब माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्थित व शिक्षा की गुणवत्ता परखने के लिए जिलाधिकारी विजय किरन आनंद की टीम ने 141 माध्यमिक विद्यालयों का निरीक्षण किया। इसमें 24 विद्यालय राजकीय और 117 अशासकीय विद्यालयों का निरीक्षण हुआ। इस दौरान एक प्रवक्ता और 9 सहायक अध्यापक समेत 21 कर्मी बिना सूचना के अनुपस्थित पाये गये।

निरीक्षण टीम से मिली आख्या के आधार पर डीएम ने जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआईओएस) को अनुपस्थित कर्मियों को निलंबित करने का निर्देश दिया। डीएम के निर्देश के बाद डीआाईओएस ने प्रबंधतंत्र को निर्देश दिया है कि अनुपस्थित शिक्षकों व कर्मचारियों को निलंबित कर सूचित करें। अन्यथा प्रबंधतंत्र पर कार्रवाई सुनिश्चित होगी।

विगत दिनों जिलाधिकारी ने अपनी निरीक्षण टीम द्वारा माध्यमिक विद्यालयों में छात्रों का नामांकन, शिक्षक व छात्र-छात्राओं की उपस्थिति, विद्यालय में छात्रों की नियमित उपस्थिति हेतु जागरुकता कार्यक्रम, भौतिक एवं मानवीय संसाधान एवं शैक्षिक कैलेंडर के अनुसार विद्यालयों में पठन-पाठन के संबंध में राजकीय एवं अशासकीय 141 माध्यमिक विद्यालयों का निरीक्षण कराया। इसमें निरीक्षण टीम को राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों व नामांकन के सापेक्ष शिक्षकों व छात्रों की उपस्थिति सही पायी गयी। वहीं 117 अशासकीय माध्यमिक विद्यालयों में एक प्रवक्ता, नौ सहायक अध्यापक, चार लिपिक और सात चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी बिना सूचना के अनुपस्थित पाये गये।

इसके अलावा 141 विद्यालयों में शिक्षकों एवं कर्मचारियों के स्वीकृत पद 5024 के सापेक्ष 3133 कार्यरत है। इसमें 2731 उपस्थित मिले। 338 आकस्मिक अवकाश पर पाये गये। 10 महिला शिक्षक-कर्मी मातृत्व अवकाश पर मिले। 14 मेडिकल अवकाश पर और 19 ईएल पर पाये गये और 21 शिक्षक व कर्मचारी बिना सूचना के गायब मिले। वहीं 141 विद्यालयों में नामांकित 99,118 हजार छात्रों की संख्या के सापेक्ष 48,169 छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे। 50,446 हजार छात्र-छात्राएं अनुपस्थित मिले। सभी कर्मियों को निलंबित करने का निर्देश जारी किया गया है।